Skip to main content | Help | Screen Reader

Current Size: 100%

पंजाब सरकार ने 5 जिलों के ट्रशरी स्वास्थ्य देखभाल केन्द्रों की सूची में 79 नये प्राईवेट अस्पताल किये शामिल

पंजाब सरकार ने 5 जिलों के ट्रशरी स्वास्थ्य देखभाल केन्द्रों की सूची में 79 नये प्राईवेट अस्पताल किये शामिल

 

चंडीगढ़, 7 अप्रैलः

 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री स. बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि कोविड-19 महामारी के विरुद्ध अपनी लड़ाई को जारी रखते हुए पंजाब सरकार ने राज्य के 5 सबसे अधिक प्रभावित जिलों में 79 नये प्राईवेट अस्पतालों को कोविड-19 के इलाज के लिए ट्रशरी स्वास्थ्य देखभाल केन्द्रों की सूची में शामिल किया है। उन्होंने कहा कि ज़िला अमृतसर, लुधियाना, एस.ए.एस.नगर (मोहाली), जालंधर और बठिंडा में गंभीर हालत वाले मरीजों की आमद और ज्यादा है।

मंत्री ने बताया कि इन जिलों में माहिर समिति द्वारा सिफ़ारिश किये गए मापदण्डों को पूरा करने वाले ऐसे और अस्पतालों की ज़रूरत है जिससे कोविड-19 के मरीजों को मानक स्तर की ट्रशरी स्वास्थ्य देखभाल मुहैया करवाई जा सके। उन्होंने कहा कि माहिर समिति द्वारा सिफ़ारिश किये गए अस्पताल और जिन अस्पतालों ने इन 5 जिलों में स्व-घोषणा पत्र दाखि़ल किये हैं, को अब कोविड-19 के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए ट्रशरी स्तर के अस्पताल के तौर पर अधिकृत किया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि रोज़ाना केस बढ़ते जा रहे हैं और सरकार ने राज्य में उच्च स्तर की स्तर-2 और स्तर-3 अस्पताल सुविधाएं दीं हैं। सभी सरकारी अस्पतालों में मरीज़ मुफ़्त इलाज करवा रहे हैं और गंभीर मरीज़ जिनको सरकारी अस्पतालों से प्राईवेट अस्पतालों में रैफर किया जाता है, को भी राज्य सरकार द्वारा मुफ़्त इलाज की सुविधा दी जा रही है।

स. सिद्धू ने कहा कि बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने राज्यभर में रात का कर्फ़्यू लगाने के आदेश दिए हैं। राज्य में कोविड-19 पाबंदियों को सख्ती के साथ लागू किया जा रहा है।

अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करने के लिए राज्य सरकार ने 2261 सरकारी और 275 प्राईवेट टीकाकरण केंद्र स्थापित किये हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को कोविड-19 से निपटने के लिए उचित व्यवहार और सावधानियों का पालन करना चाहिए।

उन्होंने योग्य लाभपात्रीयों से जल्द से जल्द टीका लगवाने की अपील भी की।

back-to-top