• English
  • ਪੰਜਾਬੀ

Current Size: 100%

Select Theme

पंजाब सिविल सचिवालय -1 और 2 में स्टाल लगा कर 5 हज़ार पौधे बाँटे जाएंगे

‘घर -घर हरियाली’ मुहिम बदलेगी पंजाब की रूप-रेखा- साधु सिंह धर्मसोत
राज्य के लोगों को अब तक 10 लाख से अधिक पौधे मुफ़्त बांटे
‘आई -हरियाली’ एप के साथ 2 लाख से अधिक परिवार जुड़े
पंजाब सिविल सचिवालय -1 और 2 में स्टाल लगा कर 5 हज़ार पौधे बाँटे जाएंगे
‘घर घर हरियाली मुहिम’ के अंतर्गत पंजाब सिविल सचिवालय -1 में लगाए पौधे
चंडीगढ़, 12 जुलाई-
    पंजाब को फिर हरा -भरा और खुशहाल बनाने के उद्देश्य से पंजाब सरकार द्वारा ‘मिशन तंदुरुस्त पंजाब’ के अंतर्गत शुरू की गई ‘घर घर हरियाली मुहिम’ को लोगों की तरफ से अच्छी स्वीकृति मिल रही है, जिस कारण राज्य की रूप-रेखा बदल जायेगी।
    पंजाब के वन मंत्री स. साधु सिंह धर्मसोत ने आज यहां पंजाब सिविल सचिवालय -1 में पौधे लगाने और ‘पंजाब सिविल सचिवालय स्टाफ एसोसीएशन’ के सहयोग से सरकारी कर्मचारियों को पौधे बाँटने के बाद यह प्रगटावा किया। उन्होंने कहा विभाग द्वारा ‘घर घर हरियाली मुहिम’ के अंतर्गत अब तक कुल मिलाकर 10 लाख से अधिक पौधे मुफ़्त मुहैया करवाए गए हैं और यह प्रक्रिया लगातार जारी है। उन्होंने कहा कि पंजाब, भारत का पहला राज्य है, जहाँ सरकार द्वारा ‘आई हरियाली’ जैसी एप शुरू की गई है, जिसको नौजवानों द्वारा सबसे अधिक स्वीकृति दी गई है। उन्होंने कहा कि वन विभाग द्वारा शुरू की गई ‘आई हरियाली’ एप के द्वारा अबतक 2.3 लाख से अधिक परिवार जुड़ चुके हैं जबकि एप के द्वारा अबतक लगभग 6 लाख से अधिक पौधे (कुल 10 लाख) मुफ़्त मुहैया करवाए जा चुके हैं। 
    स. धर्मसोत ने पौधे बाँटने और पौधे हासिल करने के साथ-साथ पौधों के संरक्षण करने पर भी ज़ोर देते हुए लोगों से अपील की कि वह जन्मदिन या अन्य अहम मौकों पर पौधे लगाने एवं बाँटने को प्राथमिता देें। उन्होंने बताया कि आने वाले दो दिनों के दौरान पंजाब सिविल सचिवालय -1 और 2 में वन विभाग द्वारा स्टाल लगाकर सरकारी कर्मचारियों को 5 हज़ार मुफ़्त पौधे बाँटे जाएंगे।
    स. धर्मसोत ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा 5 जून को ‘मिशन तंदुरुस्त पंजाब’ के अंतर्गत शुरू की गई मुफ़्त पौधे बाँटने और लगाने की मुहिम दिन प्रति दिन आगे बढ़ रही है, जोकि पंजाब के लिए लाभदायक सिद्ध होगी। उन्होंने कहा कि इस मुहिम को आगे बढ़ाने में राज्य के नौजवान अहम भूमिका निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वातावरण के संतुलन के लिए एक वृक्ष के काटे जाने पर एक वृक्ष के बदले पाँच पौधे लगाने चाहिएं क्योंकि एक पौधे को वृक्ष बनने में कई वर्ष लगते हैं। उन्होंने कहा कि अगर पंजाब निवासी अधिक से अधिक पौधे लगाकर उनकी संभाल का प्रण करें तो वह दिन दूर नहीं जब पंजाब फिर से हरा भरा और ख़ुशहाल राज्य बन जायेगा। 
    इस मौके पर श्री एन.पी. सिंह, मुख्य प्रशासकी अधिकारी, पंजाब सिविल सचिवालय -1, श्री संग्राम सिंह, श्री गुरअमनप्रीत सिंह, डी.एफ.ओ., पंजाब सिविल सचिवालय स्टाफ एसोसीएशन के सदस्यों के अलावा बड़ी संख्या में पंजाब सिविल सचिवालय के कर्मचारी और वन विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।
 

back-to-top