• English
  • ਪੰਜਾਬੀ

Current Size: 100%

Select Theme

राणा सोढी ने एशियाई खेल के लिए खिलाडिय़ों को दी शुभ कामनाएं

राणा सोढी ने एशियाई खेल के लिए खिलाडिय़ों को दी शुभ कामनाएं
    जकार्ता एशियाई खेल में बड़ी संख्या में शामिल होंगे पंजाबी खिलाड़ी
    एशियाई खेल के स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक विजेताओं को मिलेगा क्रमवार 26 लाख, 16 लाख और 11 लाख रुपए का ईनाम
    राष्ट्रमंडल और एशियाई खेल के पदक विजेता पंजाबी खिलाडिय़ों को इक_े नकद राशि से किया जायेगा सम्मानित
    खेल मंत्री ने मोहाली स्थित दो खेल कम्पलैक्सों के सौंदर्यकरण और रख-रखाव के लिए अधिकारियों को दिए निर्देश
    खेल ढांचे को मज़बूत करने के लिए कॉर्पोरेट क्षेत्र से सम्बन्धित खेल प्रेमियों का लिया जायेगा सहयोग
एस.ए.एस. नगर (मोहाली)ï/चंडीगढ़, 8 अगस्त  
‘‘इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में 18 अगस्त को शुरू हो रही एशियाई खेल में पंजाब के खिलाड़ी बड़ी संख्या में हिस्सा ले रहे हैं। हॉकी और रोइंग टीमों में तो आधे से अधिक खिलाड़ी पंजाब के हैं। सभी खेलों को मिलाकर हिस्सा लेने वाले पंजाबी खिलाडिय़ों की संख्या 40 से अधिक बनती है जिनसे पदकों के लिए बड़ी आशाएं हैं।’’ यह बात पंजाब के खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने आज यहाँ मोहाली स्थित सैक्टर 63 और 78 में खेल कम्पलैक्सों का दौरा करने के उपरांत जारी बयान में कही।
    राणा सोढी ने एशियाई खेल में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए पूरे भारतीय खेल दल को बधाई देते हुए अच्छे प्रदर्शन की आशा व्यक्त की। उन्होंने पंजाबी खिलाडिय़ों को प्रोत्साहन देते हुए कहा कि विजेता खिलाडिय़ों को खेल नीति के अनुसार नकद इनामों से सम्मानित किया जायेगा। उन्होंने विवरण देते हुए कहा कि एशियाई खेल में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक जीतने वाले पंजाबी खिलाडिय़ों को क्रमवार 26 लाख रुपए, 16 लाख रुपए और 11 लाख रुपए नकद ईनाम राशि के तौर पर दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि एशियाई खेल के बाद एक समागम रखा जायेगा जिसमें जकार्ता एशियाई खेल और इस वर्ष अप्रैल महीने गोल्ड कोस्ट में हुई राष्ट्रमंडल खेल में पदक जीतने वाले पंजाबी खिलाडिय़ों को नकद राशि से सम्मानित किया जायेगा।
    खेल मंत्री ने कहा कि खेल में पंजाब शुरू से ही अगुआ राज्य रहा है और ओलंपिक, एशियाई और राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय खेल दल में पंजाबी खिलाडिय़ों की बड़ी संख्या होती है। पिछले कुछ समय से पंजाब का खेल में प्रदर्शन बुरा रहा था और फिर से राज्य को खेल में आगे लाने के लिए निरंतर कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बार पंजाब के लिए गौरव की बात है कि एशियाई खेल के लिए हॉकी टीम में आठ खिलाड़ी, रोइंग टीम में 9 खिलाड़ी पंजाब से हैं। इसके इलावा हैंडबॉल में तीन महिला और दो पुरुष, एथलैटिक्स में तीन, साईकलिंग, निशानेबाज़ी, कुश्ती और महिला कबड्डी में दो -दो और मार्शल आर्ट और वेटलिफ्टिंग में एक -एक खिलाड़ी पंजाब से हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की कि भारत की पदक सूची में पंजाबी खिलाड़ी अपना अहम योगदान देंगेे।
खेल मंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार खेल को प्रफुल्लित करके इस क्षेत्र में पंजाब का खोया हुआ सम्मान फिर कायम करने के लिए यत्नशील है। प्राईवेट/कॉर्पोरेट क्षेत्र के साथ सम्बन्धित खेल प्रेमियों के साथ-साथ कई प्रवासी भारतीय भी इस क्षेत्र में योगदान देना चाहते हैं। पंजाब सरकार की तरफ से ऐसे खेल प्रेमी के साथ मिलकर खेल के चौ-मुखी विकास के लिए प्रयास किये जाएंगे। इसी दौरान सैक्टर 63 के स्पोर्टस कांपलैक्स का दौरा करते हुए राणा सोढी ने हॉकी स्टेडियम के सौंदर्यकरण संबंधी खेल विभाग के अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया और साथ ही यहाँ बनाई जा रही स्पोर्टस होस्टल की इमारत और खेल कांपलैक्स के विभिन्न मैदानों का जायज़ा लिया। इसी तरह उन्होंने सैक्टर 78 स्थित खेल कंापलैक्स की बेहतरी के लिए उठाएजाने वाले कदमों संबंधी भी अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया। खेल मंत्री ने कहा कि मोहाली के दोनों खेल काम्पलैक्सों के जायज़े के दौरान जो भी कमियां उनके ध्यान में आईं हैं, उनको जल्द ही दूर किया जायेगा और खिलाडिय़ों को खेल संबंधी आधुनिक ढांचा मुहैया करवाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जायेगी।
    इस मौके पर खेल विभाग की डायरैक्टर श्रीमती अमृत कौर गिल, पंजाब इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोटर््स के डायरैक्टर (तकनीकी) स. सुखबीर सिंह ग्रेवाल और डायरैक्टर (प्रशासन) आर.एस. सिंह सोढी और खेल विभाग के सहायक डायरैक्टर श्री करतार सिंह सैंहबी भी उपस्थित थे।
 

back-to-top