• English
  • ਪੰਜਾਬੀ

Current Size: 100%

Select Theme

कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा हथियारों के लाइसेंस के लिए अनिवार्य डोप टैस्ट से पूर्व-सैनिकों और वरिष्ठ नागरिकों को छूट देने का फैसला

कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा हथियारों के लाइसेंस के लिए अनिवार्य डोप टैस्ट से पूर्व-सैनिकों और वरिष्ठ नागरिकों को छूट देने का फैसला
चंडीगढ़, 8 अगस्त:
        पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने हथियारों के लाइसेंस जारी करने और इनके नवीकरण संबंधी अनिवार्य डोप टैस्ट से पूर्व-सैनिकों और वरिष्ठ नागरिकों को छूट देने का फ़ैसला किया है ।
        एक सरकारी प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री ने यह फ़ैसला पूर्व-सैनिकों और वरिष्ठ नागरिकों के ग्रुप द्वारा की गई विनती के संदर्भ में लिया ।
        पूर्व-सैनिकों और वरिष्ठ नागरिकों द्वारा कहा गया था कि उनमें से अधिकतरों के पास दशकों से हथियारों के लाइसेंस हैं । मुख्यमंत्री ने उनकी इस बात से सहमति जताई और उनके रिकॉर्ड और उम्र को ध्यान में रखते हुए उनको छूट देने का फ़ैसला लिया। राज्य सरकार द्वारा निवेदकों को हथियारों के लाइसेंस जारी करने के लिए डोप टैस्ट को अनिवार्य बनाऐ जाने हेतु लिए गए फ़ैसले से तकरीबन छह महीने के बाद यह फ़ैसला लिया गया है ।
 

back-to-top