• English
  • ਪੰਜਾਬੀ

Current Size: 100%

Select Theme

मंत्रीमंडल द्वारा सर्विस प्रोवाईडरों और सफ़ाई सेवकों का मेहनताना बढ़ाने की मंजूरी

मंत्रीमंडल द्वारा सर्विस प्रोवाईडरों और सफ़ाई सेवकों का मेहनताना बढ़ाने की मंजूरी
चंडीगढ़, ६ मार्च:
राज्य के पशु पालकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए मंत्रीमंडल ने ग्रामीण विकास विभाग के सर्विस प्रोवाईडरों (वैटरनरी फार्मासिस्टों) के मेहनताने में वृद्धि करने का फ़ैसला किया है।
इस फ़ैसले से १ जुलाई, २०१८ से ३१ मार्च, २०१९ तक वैटरनरी फार्मासिस्टों के लिए मेहनताना प्रति महीना ८००० रुपए से बढ़ाकर ९००० रुपए और सफ़ाई सेवकों के लिए प्रति महीना ४००० रुपए से बढ़ाकर ४५०० रुपए हो गया है। यह वृद्धि सर्विस प्रोवाईडरों (हैल्थ फार्मासिस्टों) और सफ़ाई सेवकों के वृद्धि की तजऱ् पर किया गया है। 
यह जि़क्रयोग्य है कि कृषि के साथ-साथ पशु पालन विभाग राज्य की आर्थिकता में बहुत योगदान डाल रहा है जो कि जी.डी.पी. का १३ प्रतिशत बनता है। पशु पालन विभाग के द्वारा राज्य में बढिय़ा पशु स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए पंजाब सरकार ने ग्रामीण विकास और पंचायत विभाग अधीन काम कर रहे ५८२ सिविल वैटरनरी अस्पतालों को ५८२ रुरल वैटरनरी अफसरों के स्वीकृत पदों समेत पशु पालन विभाग में वापस तबदील कर दिया गया है।

back-to-top