• English
  • ਪੰਜਾਬੀ

Current Size: 100%

Select Theme

कैप्टन अमरिन्दर सिंह गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के लिए वीज़ा मुक्त गलियारे का मसला केंद्रीय विदेश मंत्री के पास उठाएंगे

कैप्टन अमरिन्दर सिंह गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के लिए वीज़ा मुक्त गलियारे का मसला केंद्रीय विदेश मंत्री के पास उठाएंगे
मंत्रीमंडल द्वारा प्रकाश पर्व को समर्पित अगले महीने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने का प्रस्ताव पास    ऐतिहासिक मौके पर संसद का विशेष सत्र बुलाने के लिए भारत सरकार के पास पहुँच करने भी फैसला
सुल्तानपुर लोधी, 10 सितम्बर:
    पंजाब मंत्रीमंडल द्वारा आज लिए गये फ़ैसले के मुताबिक मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के लिए वीज़ा मुक्त गलियारे का मामला केंद्रीय विदेश मामलों संबंधी मंत्री के पास उठाएंगे। इसके साथ ही मंत्रीमंडल ने मीटिंग में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के सम्बन्ध में अगले महीने पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने का भी प्रस्ताव भी पास किया।
    अपने प्रस्ताव में कैबिनेट ने पंजाब विधान सभा के विशेष सत्र को संबोधित करने के लिए भारत के राष्ट्रपति और अन्य विभिन्न मशहूर सिख शख्सियतों को भी बुलाने का फ़ैसला किया।
    एक अन्य प्रस्ताव में मुख्यमंत्री के नेतृत्व में मंत्रीमंडल ने इस ऐतिहासिक मौके पर संसद का विशेष सांझा सत्र बुलाने के लिए भारत सरकार को ज़ोरदार सिफारिश करने का भी फ़ैसला लिया। प्रस्ताव के मुताबिक इस संसदीय सत्र को भारत के राष्ट्रपति द्वारा संबोधन किया जाना चाहिए और इसमें प्रमुख सिख शख्सियतों को भी न्योता दिया जाये।
    मंत्रीमंडल ने पाकिस्तान में गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए ऐंट्री फीस, फैसिलीटेशन चार्ज, सर्विस चार्ज आदि के बिना वीज़ा मुक्त गलियारे की इजाज़त देने का मसला केंद्रीय विदेश मंत्री के पास उठाने का भी फ़ैसला लिया है। इससे दर्शनों की इच्छा रखने वाले श्रद्धालु सिख संगत की अरदास के मुताबिक बिना किसी रोक के खुले दर्शन-दीदारे कर सकेंगे।
    मुख्यमंत्री ने इस मसले पर केंद्रीय विदेश मंत्री को निजी तौर पर मिलने का वादा करते हुये कहा कि वह केंद्रीय मंत्री से अपील करेंगे कि लाखों श्रद्धालुओं को बिना किसी दिक्कत से दर्शन-दीदारे करने की सुविधा देने के लिए वह पाकिस्तान में अपने समकक्ष के साथ वीज़ा मुक्त गलियारे को यकीनी बनाने का मसला उठाऐं।
    मुख्यमंत्री ने इस ऐतिहासिक नगर में बुनियादी ढांचे और अन्य विकास प्रोजेक्टों के चल रहे कामों की प्रगति का जायज़ा लेने के लिए 10 अक्तूबर को मंत्रीमंडल की अगली मीटिंग सुल्तानपुर लोधी में ही बुलाने का फ़ैसला लिया। सहकारिता मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा की निजी विनती पर मुख्यमंत्री ने 30 सितम्बर से पहले डेरा बाबा नानक में विशेष मीटिंग बुलाने पर भी सहमति दी जिससे उस इलाके में चल रहे विकास प्रोजेक्टों की प्रगति का जायज़ा लिया जा सके।
    मंत्रीमंडल की आज यहाँ हुई विशेष मीटिंग के दौरान सुल्तानपुर लोधी में चल रहे विकास प्रोजेक्टों के काम की प्रगति का जायज़ा लिया। मीटिंग के दौरान सुल्तानपुर लोधी -कपूरथला -करतारपुर -ब्यास -बटाला (बटाला बाइपास समेत)-डेरा बाबा नानक मार्ग को ‘श्री गुरू नानक देव जी मार्ग ’ ऐलानने के लिए प्रस्ताव को भी मंज़ूरी के दी। मीटिंग के दौरान 96.15 करोड़ रुपए की लागत से 136.14 किलोमीटर लंबी सडक़ को अपग्रेड करने और 10 मीटर तक चौड़ा करने का फ़ैसला किया गया।
    सुल्तानपुर लोधी के विधायक नवतेज सिंह चीमा की अपील को स्वीकृत करते हुये मंत्रीमंडल ने स्थानीय सिविल अस्पताल को सुपर स्पैशलिटी संस्था के तौर पर अपग्रेड करने के प्रस्ताव को भी हरी झंडी दे दी। इसके साथ ही गुरुद्वारा संत घाट से कपूरथला -सुलतानपुर लोधी रोड के साथ संपर्क के लिए एक किलोमीटर नयी सडक़ बनाने के लिए 1.24 करोड़ रुपए को परवानगी दी।
    मुख्यमंत्री ने अलग -अलग विकास कामों में जुटी एजेंसियों को निर्धारित समय में काम मुकम्मल करने की हिदायत दी। उन्होंने डिप्टी कमिशनर को भी निश्चित समय में विकास कार्य पूरा करने के लिए सभी सम्बन्धित अधिकारियों के साथ निरंतर मीटिंगें करने के हुक्म दिए। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सूबे के मुख्य सचिव और डी.जी.पी. को भी चल रहे विकास कामों और ट्रैफिक़ सिस्टम के प्रोजेक्टों का निरंतर आधार पर जायज़ा लेने के लिए कहा।
    मुख्यमंत्री ने पावरकॉम के चेयरमैन और जल सप्लाई और सेनिटेशन के सचिव को प्रकाश पर्व के मौके पर लगाये जाने वाले लंगर को बिजली और पानी की वसूली से छूट देने के लिए ढंग-तरीके तलाशने के हुक्म दिए। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सांस्कृतिक मामले के मंत्री को प्रकाश पर्व के मौके पर 550 सिखों /नानक नाम लेवा शख्सियतों को सम्मानित करने के लिए एक कमेटी का गठन करने के लिए कहा।
    इससे पहले सांस्कृतिक मामलों और पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव ने अपनी पेशकारी के द्वारा मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि पवित्र नगर में तीन अलग-अलग स्थानों गुरुद्वारा बेर साहिब, नज़दीक लोहियाँ रोड पर और सुलतानपुर लोधी-कपूरथला रोड पर संगतों के रहने के लिए टैंट सिटी स्थापित की जा रही है। यह टैंट सिटी 277 एकड़ में स्थापित की जा रही है जहाँ 30 हज़ार संगतों और 5000 कर्मचारियों के रहने की क्षमता होगी।
    इस मौके पर कपूरथला के डिप्टी कमिशनर ने पेशकारी देते हुये मुख्यमंत्री को ऐतिहासिक नगर सुल्तानपुर लोधी में चल रहे विकास कामों संबंधी अवगत करवाया। 
******
 

back-to-top