नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा द्रोणाचार्य अवार्डी पहलवान सुखचैन सिंह चीमा के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त

सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग,पंजाब
नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा द्रोणाचार्य अवार्डी पहलवान सुखचैन सिंह चीमा के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त
चंडीगढ़, 11 जनवरी
स्थानीय निकाय और संास्कृतिक पर्यटन मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू ने द्रोणाचार्य अवार्डी पहलवान सुखचैन सिंह चीमा के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। स.चीमा का गत रात्रि पटियाला में सडक़ हादसे में निधन हो गया है।
स. सिद्धू ने अपने शौक संदेश में स.चीमा के निधन को देश के लिए अपूर्णीय क्षति बताते हुये कहा कि पंजाब ने खेल जगत का एक अनमोल हीरा गवां दिया। उन्होंने कहा कि सुखचैन सिंह चीमा पटियाला के रहने वाले थे जिनके पिता ओलम्पियन केसर सिंह चीमा रुसतम-ए- हिंद थे और पुत्र ओलम्पियन पलविन्दर सिंह चीमा भी रुसतम-ए- हिंद, राष्ट्रमंडल और एशियाई खेल का पदक विजेता है। सुखचैन सिंह चीमा ने 1974 में तहरान एशियाई खेल में कंास्य का पदक जीते। सुखचैन सिंह चीमा को कुश्ती में बतौर प्रशिक्षक योगदान स्वरूप द्रोणाचार्य अवार्ड  से सम्मानित किया गया।
कैबिनेट मंत्री स. सिद्धू ने कहा कि स. चीमा के निधन से उनको भी निजी तौर पर कमी हुई है। उन्होंने दिवंग्त आत्मा की आत्मिक शान्ति के लिए कामना की और पीछे परिवार को ईश्वरीय आदेश मानने की अरदास भी की।
 

back-to-top